দেশ

झरिया : दंडाधिकारी को गोलियों से छलनी करने की रघुकुल समर्थकों ने दी धमकी, अब रेस हुआ सरकारी महकमा

  • ऐसे में जनता कैसे करेगी विश्वास, विपक्ष बना सकता है मुद्दा।

धनबाद/झरिया : कोयलांचल धनबाद में गोली बारूद एवं दहशत की राजनीति यहां की पुरानी पहचान रही है। कई दफा कोयले की खनन में लगी कम्पनियों के अफसरों के साथ इस तरह की घटना देखने सुनने को मिलती है लेकिन ताजा वाकया धनबाद के पाथरडीह रेलवे कॉलोनी की है जहां रेलवे ऑफिसर को छलनी-छलनी कर देने की धमकी देने का एक वीडियो इन दिनों सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है और धमकी देने वाला शख्स जनता मजदूर संघ सह कांग्रेसी नेता अभिषेक सिंह का समर्थक हैं।

बताते चलें कि पाथरडीह रेलवे कॉलोनी के सैकड़ों आवास पर बाहरी लोगों का कब्जा है। रेल प्रशासन को सूचना मिली है कि कतिपय दबंग-रंगदार किस्म के लोग लम्बे समय से रेलवे के आवास पर कब्जा जमा उसे किराए पर लगाए हुए हैं। धनबाद रेल प्रशासन ने इसे गम्भीरता से लेते हुए अवैध कब्जा धारियों को घर खाली करने का नोटिस थमाया था लेकिन रेलवे का आवास खाली नही हो रहा था।

वरीय मण्डल सुरक्षा आयुक्त हेमन्त कुमार ने बताया कि स्थानीय थाना और जी आर पी को सूचित कर रेलवे अधिकारी (स्टेट ऑफिसर) RPF के साथ पाथरडीह में रेलवे आवास खाली कराने गए थे। वहां कुछ लोग राजनीतिक या समाजसेवी सरकारी कार्य में बाधा डाल रहे थे। उन्होंने कहा कि स्टेट ऑफिसर के द्वारा उनलोगों के विरुद्ध कार्रवाई किये जाने की तैयारी की जा रही है। छलनी करने वाली बात की लिखित शिकायत आते ही कार्रवाई होगी और इन तमाम चीजों से जिला प्रशासन को भी अवगत कराया जाएगा।

हुआ यूं कि रेलवे अधिकारी पूरी तैयारी के साथ पाथरडीह पहुंच कार्रवाई शुरू कर दिए। कांग्रेसी नेता अभिषेक सिंह के समर्थकों ने उन्हें तत्काल इसकी सूचना दी। चूँकि अभिषेक सिंह की भाभी पूर्णिमा सिंह कांग्रेस की प्रत्याशी हैं, चुनाव लड़ रही हैं तो अभिषेक सिंह अपने समर्थकों संग पाथरडीह पहुंच गए। वहां के लोग रेलवे अधिकारी से दो महीने का समय मांग रहे थे। बात होते रही, इसी बीच अभिषेक के एक समर्थक उग्र होकर रेलवे अधिकारी से पूछ बैठता है कि गुड्डू सिंह को पहचानते हो। अधिकारी ने ना में जवाब दे दिया, फिर क्या था वह समर्थक पूरी तरह उखड़ गया और रघुकुल, गुड्डू को नही पहचानते हो, छलनी कर देंगे। अन्य समर्थकों ने उग्र व्यक्ति को समझा बुझा कर हटाया। अब बात रेल प्रशासन तक पहुंच चुकी है। चुनाव का समय है, प्रत्याशी हाथ जोड़ वोटर्स का आशीर्वाद मांग रहे हैं तो समर्थक छलनी करने की धमकी अधिकारियों को दे रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *