দেশ

धनबाद में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जनसभा

धनबाद : बरवाअड्डा हवाई अड्डा पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जनसभा को संबोधित करने पहुंचे है। वो चौथे चरण में होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए प्रचार करने आए है। यहाँ से प्रधानमंत्री धनबाद, झरिया, बाघमारा, सिंदरी, निरसा, टुंडी, देवघर, गांडेय और मधुपुर 9 विधानसभा प्रत्याशियों के समर्थन में जनता से वोट की अपील करेंगे। इस दौरान उनके साथ मंच पर झारखण्ड के सीएम रघुवर दास, केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा, लक्ष्मण गिलुआ, धनबाद के सांसद पशुपति नाथ सिंह, पूर्व झरिया विधायक कुंती सिंह, पूर्व धनबाद सांसद रीता वर्मा, धनबाद के मेयर चंद्र शेखर अग्रवाल, पूर्व सांसद रविंद्र राय सहित 9 विधानसभा के सभी प्रत्याशी और भाजपा नेता उपस्थित थे। पीएम मोदी का भाषण सुनने के लिए हजारों की संख्या में दूर-दूर से लोग पहुंचे है।

सुबह 11 बजाकर 35 मिनट पर पीएम मोदी अपने विशेष यान से रांची होते हुए धनबाद पहुंचे। सभा को पीएम ने बंगला में सम्भोदित किया कहा, ‘आपणीं केमोन आछेन।’ उन्होंने माँ लिलौरी और कल्यानेश्वरी को प्रणाम कर अपना संबोधन शुरू किया। उन्होंने कहा इस चुनाव के दरमियान झारखण्ड में जो घूम रहा हूँ, जो देख रहा हूँ, उसके बाद अपने राजनीति के अनुभव के आधार पर कहता हूँ की पुरे झारखण्ड में भाजपा की सरकार को लेकर अभूतपूर्ण उत्साह है। पहले दो चरणों में हुए मतदान में जनता ने भाजपा के पक्ष में अभूतपूर्ण मतदान किया है। उन्होंने उम्मीद जताते हुए कहा कि इस बार भी जानता प्रदेश में बहुमत की ही सरकार बनाएगी। भाजपा ही है जो संकल्प लेने के बाद उसे सिद्ध भी करती है। जो वादा हम देश के लोगो से करते है, उसपे पूरी ईमानदारी से अमल भी करते है।

कांग्रेस ने देश में एक विचित्र माहौल बनाया था, जिसके कारण घोषणा पत्रों से, राजनीति वादों से देश के लोगों का विश्वास उठने लगा था। इसका कारण कांग्रेस, झामुमो, राजद और कुछ वामपंथी है। भाजपा ने सिर्फ छह महीने में दिखाया है कि संकल्प चाहे कितने भी बड़े हो, कितने भी मुश्किल हो, पर हम उसे पूरा करने के लिए दिन और रात एक कर देते है। छह महीने पहले किसानों के खाते में सीधे रकम पहुचाने का वादा पूरा किया, सभी मजदूर किसान, दूकानदार व्यवसाई को 60 वर्ष के बाद मिलने वाले पेंशन देने का वादा पूरा किया। 2024 तक देश के हर घर को जल देने का वादा को पूरा करने के लिए जल जीवन मिशन जैसे अलग अलग मंत्रालय बना कर इस काम को पूरा करने में हम जुटे हैं। इसमें साढ़े तीन लाख करोड़ रुपया खर्च किया जाएगा।

जम्मू कश्मीर से धारा 370 हटा कर वहाँ भी भारत का संपूर्ण संविधान लागू किया गया। राम जन्म भूमि को लेकर जो विवाद सदियों से चली आ रही थी। जिसे कोंग्रेस ने जानबूझ कर उलझाए रखा, उस विवाद को हम अपने संकल्प पत्र के अनुसार शान्ति पूर्ण तरीके से सुलझाया। देश ने इस मुद्दे पर दिखाया की यहाँ कैसे सभी संप्रदाय के लोग सौहार्दपूर्ण वातावरण बनाए रखने में खुद को झोंक देते है। इस आपसी भाई चारे के चेहरा को पुरे विश्व को दिखाने का काम किया।

तीन तलाक जैसी कुप्रथा को हमने ख़त्म कर हमने देश की महिलाओं को इससे निजात दिलाया। अब तीन तलाक देश में शख्त कानून बन चूका है। तीन तलाक मुस्लिम महिलाओं से ज्यादा मुस्लिम पुरुषों की मदद करता है। कैसे में समझाता हूँ। यदि मुस्लिम पुरुष की बहन और बेटी तीन तलाक के कारण घर लौट आए तो उस भाई और पिता को भी तकलीफ होती है। इस लिए तीन तलाक का कानून लाकर मुस्लिम पुरुष की भी मदद हुई है।

बीते छह माह में जो भी फैसले लिए गए वो देश हित में थे और देश को कांग्रेस ने लटका कर इस पर राजनीति किया। कांग्रेस की यही लटकाने की राजनीति ने देश को 7 दसको तक परेशान रखा। कांग्रेस ने जायज मांगो को भी टाला और लटकाया। सामान्य वर्ग को 10 प्रतिशत आरक्षण देकर हमने न्याय दिया। यही हमारी राजनीति है। अलग झारखण्ड के लिए लोगों को खून बहना पड़ा। आंदोलन करना पड़ा, जेल जाना पड़ा, इसका कारण भी कांग्रेस थी। कांग्रेस ने 5 दसक तक अलग झारखण्ड के मुद्दे को टालते रही। ‘जो लोग कहते थे, झारखण्ड मेरे लाश पर बनेगा, वही लोग आपके पास वोट मांगने आ रहे है। इन्हें माफ़ न करे, लेकिन भाजपा ने इस मांग का सम्मान किया। जब पहली बार अटल बिहारी बाजपेयी जी के नेतृत्व में भाजपा की सरकार बनी तो वाजपेयी जी ने अलग झारखण्ड का वादा पूरा किया।

1947 में जब देश आजाद हुआ,  भारत के दो टुकड़े किए गए। भारत माता को आजाद कराने के लिये भारत माता की भुजाएं काट दी गई। 1971 में भी बंगला देश अलग कर दिया गया। इसमें सबसे ज्यादा प्रभावित बंग्लादेश, पकिस्तान, आफगानिस्तान जैसे देशों में रहने वाले हिन्दू, सिख, बौद्ध, जैन, पारसी, ईसाई जैसे अल्पसंख्यक यहाँ रह रहे थे उनपर यह फैसला थोप कर उन्हें प्रभावित किया गया। उनके साथ वहाँ अमानवीय वर्ताव किया गया। वहाँ मंदिर तोड़े गए। झोपड़ियों में जो अल्पसंख्य रह रहे थे, उनसे वो भी छीन लिया गया,  बहू-बेटियों के साथ दिनदहाड़े अत्याचार किए गए। लेकिन उन शरणार्थियों को कभी नागरिकता नहीं दिया गया। हर चुनाव में कांग्रेस ने उन्हें नागरिक अधिकार देने का वायदा तो किया, लेकिन जब कल इस कानून को लाया गया तो वही कांग्रेस इसके खिलाफ अड़ गए।

वैसे शरणार्थी जो दयनीय स्थिति में जी रहे थे, उन्हें भाजपा ने अपने वायदे के अनुसार जब कानून के तहत नागरिकता दिया तो कांग्रेस उसका भी विरोध करती दिख रही है। कांग्रेस सिर्फ वोट बैंक की राजनीति करती है। अब कांग्रेस को सभी ने ठुकरा दिया है। अब उन्हें सिर्फ एक धर्म में ही वोट बैंक दिख रहा है। इसलिए वो झूठ बोलकर भ्रम फैला रहे है। कांग्रेस की राजनीति घुसपैठियों के समर्थन से चलती है। इसलिए वो इस कानून के खिलाफ भ्रम फैला रहे है।

नॉर्थ ईस्ट की संस्कृति, धर्म और परम्परा को सम्मान देना भाजपा का संकल्प है। हर वो काम जो नॉर्थ ईस्ट के लोगों का जीवन आसान बनाए, हम वो हर काम कर रहे है। मै नॉर्थ ईस्ट की भाषा, धर्म, संस्कृति और परम्परा पर कभी आंच नहीं आने दूंगा। मैं असम के भाइयों और बहनों को भरोसा दिलाता हूँ कि उन्हें चिंता करने की आवश्यक्ता नहीं है। उनके हर हित की क्लोज 6 के तहत सुरक्षा की जाएगी।

उन्होंने कल नागरिकता बिल पर राज्यसभा में पड़े वोट की चर्चा करते हुए कहा, भारत में सवा काफी शुभ माना जाता है। हमें वही सवा सौ वोट मिले। वहीं 99 को भारत में अशुभ माना जाता है और उन सड्यंत्रकारियो को वही 99 वोट मिले। यानि वो अब 99 के चक्कर में फंस गए है। 2022 तक सभी को अपना घर मिल जाएगा। ये मेरा वादा है। धूल धुआं और धोखा झामुमो और कांग्रेस नेता ने झारखण्ड की जनता को दिया।  इसके साथ ही उन्होंने केंद्र और प्रदेश की योजनाओं को गिनाया। सिंदरी खाद कारखाना को शुरू करने के लिए तेजी से कम चल रहा है। गैस पाइप लाइन बिछाई जा रही है। जिससे घरों को गैस तो मिलेगा ही यहाँ की गाड़ियां भी धुँआ रहित होगी। सड़के और रेलवे का विस्तार काफी तेजी से चल रहा है। हाई कनेक्टिविटी के लिए तेजी से काम किया जा रहा है। जिन्हें उड़ान योजना के तहत भवीष्य में तमाम हवाई अड्डो को आधुनिक बनाया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *